Bollywood: जाने कहां खो गए बॉलीवुड के ये खतरनाक विलेन, आप किससे डरते थे?

0
19
फिल्मों से आम लोगों का काफी गहरा कनेक्शन होता है क्योंकि लोग इससे खुद को कनेक्ट करने की कोशिश करते हैं। मगर 90 के दशक की फिल्में जिन दर्शकों ने देखी है उन्हें आज की फिल्में खास पसंद नहीं होती क्योंकि आज की फिल्मों में वो कहानी और अभिनय नहीं है जो तब होती थी। आज के लोगों को आधुनिक जमाने की फिल्में पसंद नहीं आती है फिर वो एक्टिंग एक्टर, एक्ट्रेस या किसी विलेन की ही क्यों ना हो। यहां हम उन लाजवाब विलेन्स की बात करने जा रहे हैं जिनके अभिनय से उस दौर के बच्चे भी डर से जाते थे। कहां हैं Top Villain of Bollywood?

बॉलीवुड के खतरनाक विलेन | Top Villain of Bollywood

एक दौर में बॉलीवुड के इन खतरनाक विलेन्स ने तहलका मचा दिया था। इतने खतरनाक विलेन का किरदार निभाया था जिनसे बच्चे भी डरा करते थे। इनमें से शर्तियल आपका भी कोई ना कोई फेवरेट होगा जिन्होंने पर्दे पर विलेन के किरदान शानदार तरीके से निभाया। इन Top Villain of Bollywood एक्टर्स में कुछ तो इस दुनिया में भी नहीं है।

सदाशिव अमरापुरकर | Sadashiv Amrapurkar

सड़क, इश्क, गुप्त, हुकूमत, फरिश्ते, छोटे सरकार, पुराना मंदिर, बुलंदी, टारजेन, मुद्दत, एलान-ए-जंग, आग, जंग, सबसे बड़ा खिलाड़ी, याराना और आग का तूफान जैसी फिल्मों में खतरनाक विलेन के तौर पर काम किया। इसके अलावा भी इन्होने आंखे, मोहरा और कूली नंबर 1 में भी शानदार काम किया। 64 साल की उम्र में इनकी साल 2014 में मौत हो गई थी।

रमी रेड्डी | Rami Reddy

90’s की फिल्मों में सुपारी लेकर हीरो या उसके परिवार वाले को मारने का काम रमी रेड्डी का होता था। इन्होने ना सिर्फ बॉलीवुड बल्कि साउथ इंडियन फिल्मों में भी काम किया है। बॉलीवुड में इन्होंने दिलवाले, खुद्दार, आंदोलन, हक़ीकत, एलान, गुंडा, क्रोध, अंगरक्षक, हम हैं बेमिसाल, जानवर, लोहा जैसी कई फिल्मों में छोटा किरदार निभाने वाले इस एक्टर से उस दौर के बच्चे भी डरते थे। साल 2011 में किडनी खराब होने के कारण इनकी मौत हो गई थी।

गुज्जर | Gujjar

बॉलीवुड का एक ऐसा विलेन जिसने फिल्म मेला में आमिर खान को परास्त कर दिया था। रातों-रात अपनी खलनायक फेमस होने वाले इस एक्टर का नाम टीनू वर्मा था और इन्हें गुज्जर कहकर सभी बुलाते थे। साल 1993 में अपने करियर की शुरुआत करने वाले इस एक्टर ने आंखे और गुलामी जैसी फिल्मों में भी काम किया है। टीनू को आखिरी बार टीवी शो कर्म का फल दात में देखा गया था।

दीपक शिकरे | Deepak Shikre

90 के दशक में दीपक शिकरे ने तिरंगा, अंत, इश्क, गुंडा, अग्निपथ, जीत, टारजेन द वंडर कार, दाग, कर्ज, शेरा, दावा, खेल, रंगबाज, अग्निपुत्र जैसी कई फिल्मों में विलेन का किरदार निभाया है। इन्होंने पिछले कुछ सालों में एक भी फिल्म नहीं आई। पहली मूवी तिरंगा में अनेक देशों के नाक में दम कर दिया था जो गेंडा स्वामी के नाम से भी उस दौर में फेमस थे।

मुकेश ऋषि | Mukesh Rishi

मुकेश ऋषि

90 के दशक में बहुत सारी फिल्मों में विलेन का किरदार निभाने वाले एक्टर मुकेश ऋषि अब फिल्मी दुनिया से दूर हैं. वह अपना पारिवारिक बिजनेस संभाल रहे हैं लेकिन फिल्मों में काम करने का उनका आज भी मन है और वह एक मौके की तलाश में हैं. आखिरी बार उन्हें फिल्म खिलाड़ी 786 में देखा गया था.

यह भी पढ़ें- ‘अबे खामोश….’ बोलने वाले Shatrughan Sinha के 12 बेस्ट डायलॉग्स