World Environment Day: 5 जून को ही क्यों मनाया जाता है पर्यावरण दिवस?



5 जून को हर साल World Environment Day 2021 मनाया जाता है और विश्व पर्यावरण दिवस मनाने के उद्देश्य लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरुक करना है. सोशल मीडिया पर भी पर्यावरण से जुड़े फैक्ट्स शेयर होते रहते हैं जिससे लोग इसके बारे में सजग रहें. मगर क्या आपको पता है कि 5 जून को क्यों मनाया जाता है? इसके बारे में यहां हम आपको बताएंगे.

5 जून को क्यों मनाते हैं पर्यावरण दिवस? | World Environment Day 2021

साल 1972 में संयुक्त राष्ट्र संघ (United Nations) की ओर से वैश्विक स्तर पर पर्यावरण प्रदूषण की समस्या और चिता हुई और इसके लिए संघ ने विश्व पर्यावरण दिवस की स्थापना की. इसकी शुरुआत स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में हुई जहां दुनिया का पहला पर्यावरण दिवस आयोजित हुआ. इस सम्मेलन में 119 देश शामिल थे और पहले पर्यावरण दिवस पर भारत की पूर्व पीएम इंदिरा गांधी ने भारत की प्रकृति और पर्यावरण के प्रति चिंताओं का नेतृत्व किया था. इस सम्मेलन में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) की नींव रखी गई और यह दिन 5 जून का था. इसके बाद से हर साल 5 जून को ही विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day 2021) मनाया जाने लगा. विश्व पर्यावरण दिवस का उद्देश्य दुनियाभर के लोगों को पर्यावरण प्रदूषण की चिंताओं के बारे में जागरुक कराना था.



क्या है विश्व पर्यावरण की थीम | Theme of world Environment Day 2021

हर साल वर्ल्ड पर्यावरण दिवस के लिए थीम रखी जाती है और इस साल की थीम ‘पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली’ (Ecosystem Restoration) है. पारिस्थितिक तंत्र की बहाली कई तरह से हो सकती है जैसे- शहर, गांव को हरा भरा करना, पेड़ लगाना, जगह-जगह बगीचों को बनाना, नदियों और समुद्र की सफाई करना.

Leave a Reply

Your email address will not be published.