‘अबे खामोश….’ बोलने वाले Shatrughan Sinha के 12 बेस्ट डायलॉग्स

बॉलीवुड में हर एक्टर के एक्टिंग करने का तरीका अलग है और अपने खास अभिनय के लिए पहचाने जाने वाले एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा भले ही राजनीति में आ गए हों लेकिन फिल्मों में उनका काम लोग हमेशा चर्चा में आता रहता है. फिलहाल वे कांग्रेस पार्टी से लोकसभा मेंबर भी हैं. आज वे अपना 75वां जन्मदिन मना रहे हैं, इस मौके पर आपको Shatrughan Sinha Dialogues के बारे में बताने जा रहे हैं.

Shatrughan Sinha के 12 बेस्ट डायलॉग्स

9 दिसंबर, 1945 को बिहार के पटना में शत्रुघ्न सिन्हा का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था. शत्रुघ्न सिन्हा चार भाईयों में सबसे छोटे थे, बड़े भाइयों का नाम राम, लक्ष्मण और भरत है. शत्रुघ्न सिन्हा ने फिल्म एक टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ पूणे से डिप्लोमा किया था. शत्रुघ्न सिंहा की पहली फिल्म साजन (1969) थी जिसमें इनका छोटा सा रोल था. इनकी पहली सुपरहिट फिल्म काली चरण थी जिसमें इनके साथ रीना रॉय थी. शत्रुघ्न सिन्हा ने दोस्ताना, जानी दुश्मन, विश्वात्मा, नसीब, लोहा, काला पत्थर, बेताज बादशाह, शान, मेरे अपने, खिलौना, बॉम्बे टू गोवा, असली-नकली, इल्जाम जैसी फिल्मों में काम किया था. चलिए बताते हैं इनके कुछ मशहूर डायलॉग्स.



Shatrughan Sinha Dialogues
Shatrughan Sinha Dialogues

1. अमीरों से गरीबों की हड्डियां तो चबाई जा सकती हैं, उनके घर की रोटियां नहीं. | हमसे ना टकराना (1990)
2. अपनी लाशों में हम तारीखे आबाद रखें, वो लड़ाई हो अंग्रेज जिससे याद रखें. | क्रांति (1981)
3. जिसके सर पर तुझ जैसे दोस्त की दोस्ती का साया हो, उसके लिए बनकर आई मौत, उसके दुश्मन की मौत बन जाती है. | नसीब (1981)
4. जली को आग कहते हैं, बुझी को राख कहते हैं, जिस राख में बारूद बने, उसे विश्वनाथ कहते हैं. | विश्वनाथ (1978)
5. पहली गलती माफ कर देता हूं, दूसरी बर्दाश्त नहीं करता | असली-नकली (1986)
6. मैं तेरी इतनी बोटियां करूंगा कि आज गांव का कोई भी कुत्ता भूखा नहीं सोएगा. | जीने नहीं दूंगा (1984)
7. जब दो शेर आमने-सामने खड़े हों, तो भेड़िए उनके आस-पास नहीं रहते. | बेताज बादशाह (1994)
8. आज के जमाने में तो बेईमान ही एक ऐसा धंधा रह गया है, जो पूरी ईमानदारी के साथ किया जाता है. | कालीचरण (1976)
9. हम वो पंडित हैं जो शादी भी करवाते हैं और श्राद्ध भी | बेताज बादशाह (1994)
10. सर पर कफन बांधने वाले मौत से नहीं डरा करते | कालीचरण (1975)

यह भी पढ़ें- राहुल नाम तो सुना होगा…….पढ़ें, Shah Rukh Khan के 20 जबरदस्त डायलॉग्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *