बंद हो सकता है Sushant Singh Rajput सुसाइड केस, क्यों कमजोर पड़ रहे सबूत?

14 जून को बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या करके अपने परिवार और फैंस को बुरी तरह तोड़ दिया। इसी केस में उनके परिवार और फैंस का मानना है कि सुशांत सुसाइड कर ही नहीं सकते। इस घटना के बाद मुंबई पुलिस हर दिन कोई ना कोई सबूत ढूंढने की कोशिश कर रही है और कई बातें सामने आई भी हैं फिर ऐसी कौन सी कड़ी कमजोर पड़ रही जिससे Sushant Singh Rajput Suicide case बंद करने की बात मीडिया में फैल रही है? इतने हाई प्रोफाइल केस होने के बाद भी ये केस बंद कैसे हो सकता है ये बात फैंस के गले नहीं उतर रही।



Sushant Singh Rajput Suicide case क्यों हो सकता है बंद?

Sushant Singh Rajput Suicide case
Sushant Singh Rajput

सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या को लेकर हर दिन नये-नये खुलासे हो रहे हैं लेकिन ऐसा क्या खुलासा होना है जो पुलिस के हाथ नहीं आ रही है। फैंस को उस दिन का इंतजार है जब सुशांत की आत्महत्या को पुलिस हत्या का नाम दे और इस घटना के लिए किसी को दोषी ठहराया जाए। मुंबई पुलिस ने सुशांत की मौत की सभी तफ्तीश कर ली है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट की डिटेल में भी सुसाइड ही वजह सामने आई है। पोस्टमार्टम करने वाले 5 डॉक्टर्स की राय भी पुलिस ने ले ली है और जहां पर सुशांत की लाश मिली थी उस कमरे, पंखे, बेड और फंदे की ऊंचाई के साथ गहराई भी पुलिस नाप चुकी है। अब आखिरी विसरा रिपोर्ट आने वाली है जो अगले एक या दो हफ्ते में आ सकती है। पुलिस ने अब तक जितनी जांच-पड़ताल की है उसमें Sushant Singh Rajput Suicide case से जुड़े कोई ऐसे सबूत नहीं मिले हैं जो हत्या की तरफ इशारा करते हैं। आखिर में पुलिस इस नतीजे पर पहुंची है कि सुशांत सिंह राजपूत ने सुसाइड ही किया था उनकी मौत के पीछे कोई साजिश नहीं थी। हालांकि मुंबई पुलिस ये भी जानती है कि ये मामला हाई प्रोफाइल का है तो इस केस में कोई निष्कर्ष निकालने से पहले हर पहलू की जांच कर ले। पुलिस इन वजहों से इसे खुदखुशी का मामला बताया-



  • जिस कमरे में सुशांत सिंह राजपूत की मौत हुई थी उस कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। इस बात की गवाही सुशांत के घर में मौजूद तीन नौकर और दोस्त के अलावा बहन ने भी दी। पुलिस के मुताबिक सुशांत की बहन जब घर पहुंची तो उन्होंने भी दरवाजा खोलने की कोशिश की थी तब डुप्लीकेट चाबी बनाने के लिए मैकेनिक को बुलाया और जब दरवाजा खुला तो उनकी बहन वहीं मौजूद थीं। दरवाजे और ताले की तकनीकी जांच में भी ये पाया गया कि दरवाजे के लॉक या दरवाजे के साथ कोई छेड़छाड़न नहीं हुई है। दरवाजा अंदर से ही बंद था इसका मतलब सुशांत अकेले ही थे और अंदर से उन्होंने दरवाजा बंद किया था।
  • जिस कमरे में सुशांत की मौत हुई थी उस कमरे में लगे सीलिंग फैन मोटर और कमरे में मौजूद बेड के बीच का फालसा 5 फीट 11 इंच था। जबकि सुशांत की हाइट 5 फीट 10 इंच थी इसका मतलब बेड और सुशांत और पंखे के बीच सिर्फ 1 इंच का फासला था। सुशांत की बहन, ताला बनाने वाले, घर में मौजूद तीन कर्मचारी और दोस्तों के मुताबिक जब कमरे का दरवाजा खुला तो लाश बेड के दूसरी तरफ यानी बेड के किनारे झूल रही थी। मतलब सुशांत की लाश ना तो बेड पर थी ना उनके पैर बेड की तरफ थे बेड के दूसरी तरफ जहां सुशांत की लाश झूल रही थी वहां से पंखे की दूरी और ऊंचाई 8 फीट 1 इंच नापी गई।
  • मौत के समय सुशांत ने शॉट और टी शर्ट पहना था। कपड़ों की बारीकी से जांच के बाद पता चला कि उन कपड़ों पर कोई निशान या ऐसी चीज नहीं थी जिससे सुशांत की हाथापाई हुई हो।
  • सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े कुल 6 चश्मदीद गवाह पुलिस की नजर में हैं। इनमें से सुशांत के तीन कर्मचारी, एक दोस्त और बहन मुख्यरूप से शामिल हैं। पुलिस ने इन 6 लोगों से अलग-अलग तरीके से बातचीत की है और पुलिस के मुताबिक 14 जून की दोपहर की वो पूरी कहानी 6 लोगों ने एक जैसी ही बताई।
  • सुशांत के बॉडी में कहीं भी चोट के निशान नहीं पाए गए। कहीं पर किसी तरह की खरोंच भी नहीं थी, अगर किसी से उनकी हाथापाई हुई होती तो कहीं ना कहीं कोई निशान जरूर पाया गया होता। सुशांत के दोनों हाथों की उंगलियां भी बिल्कुल साफ पाई गई।

मगर कुछ सबूत कहते हैं कुछ और कहानी

Sushant Singh Rajput Suicide case
Sushant Singh Rajput

Sushant Singh Rajput Suicide case में जहां पुलिस की फाइल बंद होने की कगार पर है वहीं कई ऐसे खुलासे हो रहे हैं जिससे फैंस और परिवार सीबीआई जांच की मांग और तेज हो जा रही है। इनमें से एक संजय लीला भंसाली भी हैं जिन्होंने अपनी फिल्म बाजीराव मस्तानी (Bajirao Mastani) सुशांत को नहीं दी बल्कि उनकी प्रेमिका अंकिता लोखंडे को लीड रोल दिया। वहीं सुशांत के कमरे में पाए गए लाल रंग के बैग के रहस्य से भी पर्दा उठता दिखा। संजय से पूछताछ में ये बात सामने आई कि उन्होंने सुशांत को एक फिल्म ऑफर की थी लेकिन उन्होंने मना कर दिया था। फिर खबर आई कि भंसाली ने सुशांत को नहीं बल्कि अंकिता को एक गाना ऑफर किया, उनके लिए एक लावणी नृत्य भी तैयार हुआ था लेकिन अंकिता ने इसे करने से मना कर दिया। इन सबूतों के आधार पर मन में सुशांत की हत्या के सवाल उठते हैं-



  • एक रिपोर्ट के मुताबिक सुशांत ने जिस कपड़े से फांसी लगाई थी उसमें लेफ्ट हैंड के फिंगरप्रिंट मिले जबकि सुशांत राइट हैंडेड थे। इस कपड़े की जांच को फॉरेंसिक लैब भेजा गया है।
  • सुशांत के कमरे में एक लाल रंग का बैग पाया गया जिस बैग को उनके करीबी दोस्त महेश शेट्टी के पास एक फोटो में देखा गया था। मगर पुलिस के मुताबिक वो बैग सुशांत की बहन मीतू सिंह का है जो कभी सुशांत तो कभी महेश यूज करते थे। इस बात को सुशांत की बहन ने बताया और उन्होंने यकीन से कहा कि महेश ऐसा काम नहीं कर सकते।
  • सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें वायरल हो रही हैं जिसमें सुशांत के गले में कुछ खिंचाव का निशान है जो अलग ही लग रहा है। इस आधार पर फैंस मानने को तैयार नहीं कि उनका चहेता एक्टर ऐसा कुछ कर सकता है।
  • सुशांत जिंदादिल इंसान थे और हर मुश्किल का हल वे कैसे भी निकालकर मुस्कुराते रहते थे, ऐसा उनके पिता का कहना है तो ऐसा इंसान सुसाइड कर ले ये परिवार मानने को तैयार ही नहीं है।
  • सुशांत बड़े बैनर की फिल्में ना मिलने से परेशान थे लेकिन छोटे बैनर्स की फिल्में उनके पास थीं और वे अपने इंटरव्यूज में उन ऑफर्स से संतुष्ट थे फिर आत्महत्या करने की क्या गुंजाइश हो सकती है।
  • अपनी ज्यादातर फिल्मों में सुशांत ने जिंदगी जीने के अलग-अलग मंत्र बताए हैं लोग भी उनसे अक्सर सलाह लेते थे लेकिन खुद निराशा वाली बात करते नजर नहीं आए।

सोशल मीडिया पर सुशांत के फैंस #cbiinquiryforsushantsingh #Sushantsinghrajput और #Justiceforsushant जैसे ट्रेंड चला रहे हैं क्योंकि वे अपने हीरो के लिए इंसाफ चाहते हैं। अब देखना ये है कि आगे क्या होता है, लेकिन अगर कुछ गलत हुआ है तो सुशांत को इंसाफ मिलना ही चाहिए।

यह भी पढ़ें-  Sushant Singh Rajput में कैसे है दाऊद का हाथ? पूर्व रॉ ऑफिसर ने खोले राज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *