SSC CPO क्या है? जानें इसका पाठ्यक्रम | SSC SPO Syllabus in Hindi

SSC SPO Syllabus in Hindi- हर साल लाखों बच्चे SSC CPO exam की तैयारी करते हैं लेकिन इसका सही पाठ्यक्रम पता नहीं होने के कारण उन्हें काफी परेशानी उठानी पड़ती है. अगर आप भी एसएससी सीपीओ की तैयारी कर रहे हैं और आप चाहते हैं कि आप SI यानी Sub Inspector या ASI यानी Assistant Sub Inspector बन जाएं तो आपको इस पोस्ट के बारे में सारी जानकारी होनी चाहिए, साथ ही इसके पाठ्यक्रम में क्या-क्या पूछा जाता है ये सब पता होना चाहिए.



क्या होता है SSC CPO? | SSC SPO Syllabus in Hindi

कर्मचारी चयन आयोग, दिल्ली पुलिस और सीएपीएफ में एस आई या एएसआई के पद के लिए हर साल SSC CPO (केंद्रीय पुलिस संगठन) भर्ती की परीक्षा आयोजित की जाती है. SSC का फुल फॉर्म Staff Selection Commission होता है जो आपको लगभग पता ही होता है लेकिन CPO का फुल फॉर्म Staff Selection Commission होता है. केंद्रीय पुलिस बल भारत के गृह मंत्रालय के अधिकार में साल सुरक्षा बलों के लिए काम करता है. जिसमें Border Security Force (BSF), Central Reserve Police Force (CRPF), Central Industrial Security Force (CISF), Sashastra Seema Bal (SSB), Indo-Tibetan Border Police (ITBP), Assam Rifles (AR) और National Security Guard (NSG) होते हैं. SSC CPO की परीक्षा पास करने के बाद आपको इन्हीं में से किसी एक Police Force में SI और ASI पद के लिए चुना जाता है.

इन पदों के लिए आवेदक के पास देश के किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी या संस्थान से ग्रेजुएशन की डिग्री होना चाहिए. इसके साथ ही उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 20-25 वर्ष होनी चाहिए, वहीं SC/ST उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु सीमा में 5 साल और OBC को 3 साल और दिव्यांग उम्मीदवार को 10 साल की छूट का प्रावधान किया गया है.



SSC CPO Syllabus in Hindi

पेपर वन, पेपर टू और फिजिकल टेस्ट के आधार पर उम्मीदवार का चयन निर्धारित होता है.

पेपर-1: पहला पेपर 2 घंटे का होता है जिसमें 200 अंकों के सवाल पूछे जाते हैं. पहले पेपर में चार पार्ट दिए जाते हैं, जिसमें जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग से 50 मार्क्स के सवाल, जनरल नॉलेज और जनरल अवेरनेस से 50 मार्क्स के 50 सवाल, क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड से 50 मार्क्स के 50 सवाल और इंग्लिश कंप्रीहेशन से 50 मार्क्स के लिए 50 सवाल पूछे जाते हैं. इसमें सभी वैकल्पिक होते हैं जो हिंदी और अंग्रेजी में होते हैं.

पेपर-2: दूसरे पेपर में इंग्लिश भाषा और कंप्रीहेशन से जुड़े 200 मार्क्स के 200 सवाल पूछे जाते हैं. इसके लिए भी आपको 2 घंटे का समय दिया जाएगा. पेपर वन और पेपर टू में नेगेटिव मार्किंग होती है यानी गलत सवाल पर 0.5 मार्क्स काटे जाते हैं. इसलिए सवाल को सही ढंग से पढ़कर उसका सही जवाब देना चाहिए. फिजिकल टेस्ट से संबंधित जानाकरी आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर देख सकते हैं.

ऊंचाई और सीना

पुरुष के लिए- जनरल कैटेगरी के लिए पुरुष उम्मीदवारों की न्यूनतम ऊंचाई 170 सेंटीमीटर होनी चाहिए. पहाड़ी क्षेत्रों से संबंधित उम्मीदवारों की न्यूनतम ऊंचाई 165 सेंटीमीटर तय की गयी है. अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों की न्यूनतम ऊंचाई 162.5 सेंटीमीटर होनी चाहिए. सामान्य वर्गों के उम्मीदवारों के लिए नयूनतम सीने का माप बिना फुलाए 80 सेंटीमीटर और फुलाने पर 85 सेंटीमीटर होना चाहिए. पहाड़ी क्षेत्रों से संबंधित उम्मीदवारों के लिए भी सामान्य वर्गों जैसा ही रखा गया है. Scheduled Tribes के उम्मीदवारों के न्यूनतम सीने का माप बिना फुलाए 77 सेंटीमीटर और फुलाकर 82 सेंटीमीटर होना चाहिए.



महिलाओं के लिए- जनरल कैटेगरी की महिला उम्मीदवारों की न्यूनतम ऊंचाई 157 सेंटीमीटर होनी चाहिए. पहाड़ी क्षेत्रों की निवासी महिलाओं की न्यूनतम ऊंचाई 155 सेंटीमीटर होनी चाहिए. ST महिला उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम ऊंचाई 154 सेंटीमीटर होनी चाहिए. महिलाओं के लिए सीने की माप की अनिवार्य नहीं है.

SSC CPO के उम्मीदवारों के लिए मानदंड

1. आपकी आंख 6/6 होनी चाहिए, अगर आपकी एक आंख 6/9 की है तो भी आपका सिलेक्शन हो सकता है. 6/6 विज़न को ‘Better Eye’ की श्रेणी में रखा गया है.
2. दाएं हाथ के व्यक्ति में, दाईं आंख ‘Better Eye’ होनी चाहिए और बाएं हाथ के व्यक्ति में बाईं आंख ‘Better Eye’ होनी चाहिए.
3. उम्मीदवार की लसिक सर्जरी भी नहीं होनी चाहिए.
4. आपको रंगों की पहचान अच्छे आनी चाहिए.
5. बिना चश्मे की सहायता से आपकी आंखे 6/6 होनी चाहिए.
6. अभ्यर्थी इन में से किसी चीज से परेशान हैं तो आपको मेडिकल में छांट दिया जाता है.
7. सुनने में किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं होनी चाहिए.



यह भी पढ़ें- कौन कर सकता है Fire and Safety Course? जानिए पूरी डिटेल्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *