UPPCL Recruitment: यूपी के बिजली विभाग में निकली वैकेंसी, इस तरह करें Apply

अगर आप Sarkari Naukri करना चाहते हैं तो यूपी के बिजली विभाग में आपके लिए अवसर है. उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (UPPCL) ने सहायक लेखाकर (Assistant Accountant) के पद पर भर्ती निकाली है. भर्ती के लिए आवेदन शुरु हो गए हैं, ये आवेदन ऑनलाइन ही किए जाएंगे. इस पद के लिए विस्तार से हम आपको बताएंगे.



Sarkari Naukri के लिए यहां करें अप्लाई

यूपीपीसीएल के विद्युत सेवा आयोग ने ये भर्ती 33 पदों के लिए निकाली है. 21 पद अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी के लिए है, जबकि 11 पद अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है. अनुसूचित जनजाती के लिए 1 पद आरक्षित है. इन पदों में वेतन 29,800 रुपये से 94,300 रुपये के बीच मिलेगा. Sarkari Naukri 2020 में नौकरी पाने के लिए इन पदों के लिए योग्यता इस प्रकार है.

योग्यता

इन पदों पर वही कैंडिडेट आवेदन कर सकते हैं जो मूल रूप से यूपी निवासी हों. भर्ती के लिए ऑनलाइन परीक्षा होगी, आवेदन करने वालों के पास मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी या डीम्य यूनिवर्सिटी से कॉमर्स में ग्रेजुएशन की डिग्री होना जरूरी है. जबकि आयु सीमा 21 से 40 वर्ष के बीच रखी गई है. (01.07.2020 तक)

इस तरह होगा चयन

सबसे पहले आपको ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा, इसके बाद लिखित परीक्षा होगी. लिखित परीक्षा के आधार पर ही चयन किया जाएगा. लिखित परीक्षा के लिए अभ्यर्थी को www.uppcl.org वेबसाइट पर जाकर डाउनलोड करना होगा.

क्या है फॉर्म भरने की फीस

एससी या एसटी अभ्यर्थियों की फॉर्म की फीस 700 रुपये है, जबकि ओबीसी नॉन क्लीमीलेयर के लिए 1000 रुपये और विकलांग अभ्यर्थियों के लिए 10 रुपये फीस रखी गई है.



महत्वपूर्ण तिथियां

  • ऑनलाइन आवेदन पत्र पूरी करने की तिथि- 9 सितंबर से 29 सितंबर 2020 तक
  • नेट बैंकिंग/कार्ड से आवेदन शुल्क जमा करने की तिथि- 9 सितंबर से 29 सितंबर 2020 तक
  • एसबीआई के चालान द्वारा आवेदन फीस जमा करने की तिथि- 9 सितंबर से 1 अक्टूबर तक
  • ऑनलाइन परीक्षा (CBT) का संभावित समय- अक्टूबर का चौथा सप्ताह

इसकी अधिक जानकारी आपको Sarkari Naukri Result पर मिल जाएगी, वहीं से जाकर आप ऑनलाइन फॉर्म भर सकते हैं. Sarkari Job पाने के लिए आपको इस फॉर्म को फिल करना चाहिए, Sarkari Naukri के इच्छुक और यूपी में रहने वाले युवाओं के लिए बिजली विभाग ने खास अवसर दिया है.

यह भी पढ़ें- बाबरी मस्जिद से राम मंदिर निर्माण तक की पूरी कहानी, ये है 400 साल पुराना इतिहास



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *