DDLJ के 25 साल बाद भी आपको नहीं पता होंगी फिल्म से जुड़ी ये 25 बातें

हिंदी सिनेमा के 100 सालों में जब भी बेहतरीन फिल्मों की बात होगी तब DDLJ यानी ”दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे” का नाम जरूर लिया जाएगा। ये फिल्म ना कि शाहरुख खान और काजोल के लिए अहम थी बल्कि फिल्म की स्टारकास्ट से लेकर क्रू मेंबर्स तक सभी के लिए खास है। फिल्म का निर्देशन आदित्य चोपड़ा ने किया था और ये उनका डेब्यू था इसके अलावा यश चोपड़ा ने इसे प्रोड्यूस किया था। 20 अक्टूबर, 1995 को ये फिल्म सिनेमाघरों में रिलीज हुई और साल 2015 तक इसे मुंबई के मराठा टेंपल सिनेमाघर में रोजना एक शो का दिखाया गया।



DDLJ एक रोमांटिक फिल्म थी जिसे हर उम्र के लोगों ने पसंद किया लेकिन रिलीज के इतने सालों के बाद भी आपने इस फिल्म से जुड़ी इन बातों को नही सुना होगा। Rochak Safar पर हम आपको इसी के बारे में बताए गए हैं..

1. फिल्म के निर्देशक आदित्य इस फिल्म में हॉलीवुड एक्टर टॉमक्रूज को लेने वाले थे और फिल्म का नाम ‘द ब्रेवहर्ट विल टेक द ब्राइड’ रखा जाना था मगर उनके यश चोपड़ा ने उन्हें शाहरुख खान का नाम सुझाया।

2. फिल्म में पहले शाहरुख से पहले सैफ अली खान को लिया जाना था लेकिन फिर यश चोपड़ा ने आदित्य को शाहरुख की खूबियों के बारे में बताया और आदित्य ने शाहरुख का स्क्रीन टेस्ट लिया जिसमें वे पास हो गये।

3. फिल्म के लिए शाहरुख से मिलने के लिए आदित्य को 4 बार मीटिंग करनी पड़ी थी। शाहरुख को फिल्म पसंद नहीं थी और वे 4 बार मनाने पर माने थे।

DDLJ
फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, फोटो क्रेडिट: Twitter/DDLJ

4. फिल्म का टाइटल अनुपम खेर की पत्नी किरण खेर ने सजेस किया था। इसके पहले फिल्म के टाइटल पर बहुत काम किया गया लेकिन मिल नहीं रहा था। आदित्य इसके लिए बहुत परेशान हुए थे।

5. आदित्य के दिमाग में तीन प्रेम कहानियां और एक टीचर पर आधारित फिल्म बनाना चाहते थे स्क्रीप्ट तैयार थी लेकिन फिल्म का नाम नहीं मिल रहा था। इसलिए उन्होने पहले डीडीएलजे बना ली और बाद में उस स्क्रिप्ट पर काम किया जिसका नाम ‘मोहब्बतें’ था।

6. फिल्म में शाहरुख खान ने जो लेदर की जैकेट पहनी थी वो उदय चोपड़ा की थी और उसे उन्होंने कैलिफोर्निया के बेकर्सफील्ड में हार्ले-डेविडसन के शोरूम से 400 डॉलर में खरीदी थी।

7. फिल्म DDLJ में काजोल के मंगेतर बने परमीत शेट्टी का किरदार पहले अरमान कोहली निभाने वाले थे। मगर ऑडिशन पर परमीत शठी बूट्स, जीन्स और वेस्टकोर्ट में आए थे जिन्हें देखते ही आदित्य ने ये रोल उन्हें दे दिया।



8. पहला रिकॉर्ड होने वाला ‘मेरे ख्वाबों में जो आए’ था। आदित्य चोपड़ा ने 24 बार आनंद बख्शी साहब से लाइन्स लिखवाई और जब उन्हें सही लगा तब इसे फाइनल किया था।

9. फिल्म का सुपरहिट गाना ‘मेहंदी लगा के रखना’ गाने में काजोल के लिए मनीष मल्होत्रा ने हरे रंग का सूट डिजाइन किया था लेकिन चोपड़ा वहां भी अड़ गए थे कि पंजाबी परिवारों में लड़कियां लाल, मरून या गुलाबी कपड़े पहनती हैं लेकिन काजोल को ये पसंद आया और इसे फाइनल किया गया।

10. फिल्म का सुपरहिट गाना ‘तुझे देखा तो ये जाना सनम’ को गुड़गांव के पीली सरसों के खेतों में शूट हुआ था। फिल्म की पूरी यूनिट ट्रेन से यहां पर पहुंची थी और इस गाने को शूट करते हुए खूब एन्जॉय किया था।

11. आदित्य ने फिल्म के हीरो का नाम राज रखा जो शोमैन राजकपूर से प्रेरित था। फिल्म में उनका पूरा नाम राजनाथ था जो फिल्म बॉबी (1973) में ऋषि कपूर के नाम से प्रेरित था।

12. फिल्म में अनुपम खेर शाहरुख को अपने कुछ पूर्वजों के बारे में बताते हैं जो पढ़े लिखे नहीं होते। असल में वे नाम अनुपम के सगे अंकल्स के थे जो पढ़ाई में कुछ खास नहीं थे।

DDLJ
फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, फोटो क्रेडिट: Twitter/DDLJ

13. इस फिल्म से मंदिरा बेदी ने बड़े पर्दे पर फिल्मी पारी की शुरुआत की थी और इसके बाद वे कई फिल्में, टीवी शोज और फिर क्रिकेट कमेंटेटर बनी।

14. इस फिल्म DDLJ के ब्लॉकबस्टर होने के बाद ही शाहरुख खान को किंग ऑफ रोमांस का खिताब मिला था। इसके बाद शाहरुख को कई रोमांटिक फिल्में ऑफर हुई थी।

15. फिल्म के गाने ‘मेरे ख्वाबों में जो आए’ में काजोल ने बहुत ही छोटी स्कर्ट पहनी थी। दरअसल वो स्कर्ट मनीष मल्होत्रा से बहुत छोटी हो गई थी। वे इस स्कर्ट के साथ आदित्य से माफी मांगने आए थे लेकिन आदित्य को ये पसंद आई और इसे फाइनल किया गया।

16. आदित्य ने फिल्म की मेकिंग वीडियो एडिटिंग के लिए करण जौहर और उदय चोपड़ा को जिम्मेदारी दी थी। इस काम को करने के लिए उन्होंने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया था और बाद में ये वीडियो दूरदर्शन पर चलाई गई थी।

17. जिस सीन में आपने देखा होगा कि शाहरुख अमरीश पुरी से बियर लेने के बहाने एक दवा खरीदने जाते हैं। असल में आदित्य ने स्क्रिप्ट में कंडोम लिखा था लेकिन फिल्म की एडिटिंग में यश चोपड़ा ने आदित्य को समझाया ये एक पारिवारिक फिल्म होनी चाहिए तब उन्होंने उसकी जगह डिस्प्रिन रखा।



18. फिल्म DDLJ के गाने ‘रुक जा ओ दिल दीवाने’ के लास्ट में शाहरुख काजोल को नीचे गिरा देते हैं। असल में वो बात काजोल को बताई नहीं गई थी क्योंकि आदित्य इस सीन को काजोल के रियल एक्सप्रेशन के साथ शूट करना चाहते थे।

19. फिल्म के गाने ‘मेरे ख्वाबों में’ काजोल ने जो तौलिया पहनकर डांस किया था उसे करने में काजोल झिझक रही थीं। मगर आदित्य ने उन्हें भरोसा दिलाया कि वे इस सीन को क्लासिक तौर पर पर्दे पर दिखाएंगे और ऐसा ही हुआ। उनका ये सीन काफी प्रचलित हुआ था।

20. फिल्म के गाने ‘जरा सा झूम लूं मैं’ वाले सीन में काजोल को स्विम सूट पहनना था जिसे वे पहनकर अनकंफर्टेबल महूसस कर रही थी। फिर कोरियोग्राफर सरोज खान ने उन्हें पैरों में अपना दुपट्टा बांध दिया, वो आप उस गाने में देख सकते हैं।

21. इस फिल्म के आने के बाद से देशभर में करवाचौथ का पर्व धूमधाम से मनाया जाने लगा था। वरना इसके पहले करवाचौथ सिर्फ पंजाब में ही प्रचलित था।

DDLJ
फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, फोटो क्रेडिट: Twitter/DDLJ

22. फिल्म के एक-एक डायलॉग्स इतने फेमस हुए थे कि इन्हें कई फिल्मों में इसे दोहराया गया था। आज भी लोग इस फिल्म के तगड़े दीवाने हैं।

23. DDLJ को ना सिर्फ भारतीय जनता ही पसंद करती है बल्कि इसे कई दूसरे देश में भी पसंद किया जाता है। इस फिल्म को 10 अलग-अलग भाषाओं में बाद में रिलीज किया गया था।

24. दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत शीला दीक्षित ने इस फिल्म को 20 बार देखा था। वे शाहरुख खान और इस फिल्म की बहुत बड़ी फैन थीं।

25. दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे के 25 साल पूरे होने पर राज-सिमरन का स्टैच्यू लगाने की घोषणा ‘हार्ट आफ लंदन बिजनेस अलायंस’ ने की है. इसे लीसेस्टर चौक पर स्थित ओडियोन सिनेमा के बाहर पूर्वी हिस्से में लगाया जाएगा.

यह भी पढ़ें- जब सुशांत की एक्टिंग पर Shahrukh Khan ने लगा लिया उन्हें गले, देखिए वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *